डॉक्टर क्या होता है ? डॉक्टर कैसे बने how to become a doctor in Hindi

दोस्तों बचपन से ही हमारा कोई ना कोई सपना होता है। कोई इंजीयनर बनना चाहता है तो कोई डॉक्टर, यदि आपका सपना भी डॉक्टर बनने का है। तो आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे डॉक्टर क्या होता है। (What is doctor) डॉक्टर कैसे बने (doctor kaise bane), डॉक्टर कितने प्रकार होते है ? (Types Of Doctor) डॉक्टर के पास क्या-क्या सामग्री होती है। डॉक्टर बनने लिए क्या योग्यता (Qualification) होनी चाहिए। डॉक्टर बनने के लिए कौन -कौन से कोर्स करना होता है। डॉक्टर बनने के बाद कहा जॉब कर सकते है। डॉक्टर बनने के बाद वेतन कितना मिलता है। आदि डॉक्टर से जुडी सभी जानकारियाँ जानने की कोसिस करेंगे।

डॉक्टर क्या होता है (what is a doctor)

डॉक्टर (Doctor) हमारे लिए एक भगवान का रूप होता है। जो हमें कई बार जीवन दान प्रदान करता है। जो बड़ी -बड़ी बीमारी जैसे -COVID-19, कैंसर, फीवर, फैक्चर, हार्डअटेक जैसी और भी बहुत सारी बीमारियों का इलाज करके हमें स्वस्थ करता है। और उनको सुरक्षित जीवन प्रदान करते है। और एक नया जीवन जीने का मौका देता है। हमें शरीर से जुडी स्वास्थय संबधित जानकारी डॉक्टर के माध्यम से ही प्राप्त होती है। डॉक्टर मरीजों के शरीर में कौन सी बीमारी है। उसका पता करके मरीजों का इलाज करके उनकी बीमारी तथा बड़े बड़े ऑपरेशन सक्सेस करके उसके हिसाब से मेडीशियन दे कर उनको स्वस्थ करते है। आइये आगे जानते है की डॉक्टर कैसे बने (Doctor kaise bane)

Doctor kaise bane डॉक्टर कैसे बने ? how to become a doctor

दोस्तों यदि आप डॉक्टर बनना चाहते है। तो आपको कड़ी लगन से मेहनत करनी होगी। इसके लिए आपको सबसे पहले 11th में बॉयलोजी, फिजिक्स, केमिस्ट्री सब्जेक्ट लेकर आपको 12th क्लास कम से कम 50% मार्क से उत्तीर्ण करने के बाद आपको आगे डॉक्टर की पढ़ाई करने के लिए इंट्रेंस एग्जाम (entrance exam) देना होता है। जैसे NEET आदि

NEET इंट्रेंस एग्जाम (entrance exam) जिसका पूरा नाम (National Eligibility Entrance Test) होता है। यदि आप NEET का एग्जाम देते है। और आपकी रेंक बहुत अच्छी आती है। तो आपको MBBS डॉक्टरी पढ़ाई करने को मिलता है। यदि आपकी रैक कम आती है। तो आपको BDS, BAMS, BUMS डॉक्टरी पढ़ाई करने को मिलेगा। इसके आवला भी अलग अलग पोस्ट के लिए अलग अलग डाक्टरी कोर्स होते है जिन्हे करके आप डॉक्टर बन सकते है।

Related Post :

डॉक्टर बनने के लिए क्या योग्यता होनी चहिये (What is the qualification required to become a doctor)

डॉक्टर बनने या डॉक्टरी कोर्स करने के लिए आपके पास निम्नलिखित योग्यता होना चाहिए –

  • सबसे पहले आपको 10th क्लास में कम से कम 50% मार्क से उत्तीर्ण होना आवश्यक होता है। क्योकि, तभी आपको 11th क्लास में पीसीबी (फिजिक्स, कमेस्ट्री, बायोलॉजी) विषय के लिए प्रवेश मिलता है।
  • 11th क्लास में फिजिक्स, कमेस्ट्री, बायोलॉजी (पीसीबी) सब्जेक्ट के साथ पढ़ाई करना जरूरी है।
  • 12th क्लास कम से कम 50% अंको के साथ उत्तीर्ण करना होंगा।
  • इंट्रेंस एग्जाम अच्छे अंको से पास करना होगा।
  • आपकी आयु कम से कम 17 से 25 साल के अंदर होना चहिये।
  • आपकी इंग्लिश अच्छी होनी चाहिए।

डॉक्टर कितने प्रकार के होते है ? (How many types of doctors)

दोस्तों डॉक्टर कई प्रकार के होते है। अलग-अलग बीमारियों का इलाज करने के लिए अलग अलग स्पेसल डॉक्टर होते है। और डॉक्टरों को उनके की गई पढ़ाई के सब्जेक्ट के हिसाब से अपने कार्य क्षेत्र के हिसाब से अलग अलग नामो से जाना जाता है। जैसे –

  • cardiologist – हृदय रोग विशेषज्ञ
  • ophthalmologist – नेत्र-विशेषज्ञ
  • pulmonologist – फुफ्फुसीय रोग विशेषज्ञ
  • orthopedic – हड्डी का डॉक्टर
  • dentist – दंत चिकित्सक
  • neurologist – न्यूरोलॉजिस्ट
  • pediatrician – बच्चों का चिकित्सक
  • psychiatric – मानसिक रोगों का
  • dermatologist -त्वचा विशेषज्ञ इत्यादि।

डॉक्टर बनने के लिए कौन सा कोर्स कर सकते है ? (Which course can I do to become a doctor?)

डॉक्टर बनने के लिए आप निम्न कोर्स के साथ पढ़ाई कर सकते है।

  • एम बी बी एस (MBBS) बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ़ सर्जरी (Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery)
  • बी डी एस (BDS) बैचलर ऑफ डेन्टल सर्जरी (Bachelor of Dental Surgery)
  • बी एच एम एस (BHMS) बैचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी (Bachelor of Homeopathic Medicine and Surgery)
  • बी ए एम एस (BAMS) बैचलर ऑफ आयुर्वेदिक मेडिसिन एंड सर्जरी (Bachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery)
  • एम डी (MD) डॉक्टर ऑफ मेडिसिन (doctor of medicine)
  • एम एस (MS) मास्टर ऑफ मेडिसिन (Master of Medicine)
  • बी-फार्म (B-PHARM) बैचलर ऑफ फार्मेसी (Bachelor of Pharmacy)
  • बी एस सी नर्सिंग (BSC Nursing)
  • बी पी टी (BPT) फिजियोथेरेपी (physiotherapy)
  • डी फार्म (D-PHARM) आयुर्वेदिक सिद्ध मेडिसिन (Ayurvedic Siddha Medicine)
  • बी यू एम एस (BUMS) बैचलर ऑफ यूनानी मेडिसिन एंड सर्जरी (Bachelor of Unani Medicine and Surgery)
  • बी एम एल टी (BMLT) बैचलर ऑफ़ मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी “Bachelor of Medical Laboratory technology”

डॉक्टर कोर्स करने वाले कॉलेज कौन-कौन से है (Which are the colleges offering doctor’s courses)

दोस्तों वैसे तो डॉक्टरी कोर्स करने के लगभग सभी बड़े शहरो में कॉलेज उपलब्ध है लेकिन कुछ प्रसिद्ध कॉलेज इस प्रकार है।

  • अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी अलीगढ (Aligarh Muslim University Aligarh)
  • श्री रामचन्द्र मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टिट्यूट चेन्नाई (Sri Ramachandra Medical College and Research Institute Chennai)
  • किंग जोर्गेस मेडिकल यूनिवर्सिटी लखनऊ (King Georges Medical University Lucknow)
  • क्रिस्चियन मेडिकल कॉलेज मणिपाल (Christian Medical College Manipal)
  • पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस एंड रिसर्च चंडीगढ़ (Post Graduate Institute of Medical Sciences and Research Chandigarh)
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ लिवर एंड बिलियरी साइंसेज दिल्ली (Institute of Liver and Biliary Sciences Delhi)
  • बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी वाराणसी (Banaras Hindu University Varanasi)
  • अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान नई दिल्ली (All India Institute of Medical Success New Delhi)
  • जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च (Jawaharlal institute of postgraduate medical education and research)
  • कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज मणिपाल (Kasturba Medical College Manipal)

डॉक्टर के पास क्या-क्या सामग्री होती है (What materials does the doctor have)

डॉक्टर को मरीजों का उपचार करने के लिए में अनेक प्रकार की सामग्री की आवश्यकता होती। जिसके बिना डॉक्टर को मरीजों का इलाज करना सम्भव नहीं है। जैसे –

  • स्टेथोस्कोप (stethoscope)
  • सिरिंज (syringe)
  • टेस्ट तुबे (test tube)
  • पिल्स टेबलेट (pills tablet)
  • बैंडऐड (band aid)
  • फर्स्ट एड किट (Frist aid kit)
  • थर्मामीटर (Thermometer)
  • बैंडेज (bandage)
  • पिल्स (pills)
  • टेबलेट (Tablet)
  • कैप्सूल (Capsule)
  • सीज़र्स (scissors) इत्यादि।

डॉक्टर कोर्स कितने साल का होता है (How long is the doctor’s course)

दोस्तों डॉक्टरी कोर्स कितने वर्ष का होता है यह बताना थोड़ा मुश्किल है क्योकि यह निर्भर करता है की आप डाक्टरी का कौनसा कोर्स कर रहे है। आप अपना डाक्टरी कोर्स 2 से 6 वर्ष के भीतर पूरा कर सकते है जैसे : आपको अगर MBBS डॉक्टरी कोर्स करना है। है तो यह साढ़े पांच साल का होता है। इसमें आपको साढ़े चार साल पढ़ाई करनी होती है। इसके बाद 1 साल का आपको प्रैक्टिकल नॉलेज दी जाती है। इसी तरह से BHMS (बैचलर ऑफ़ होम्योपैथिक) डॉक्टरी कोर्स भी साढ़े पांच साल का होता है। वही DM (डॉक्टर इन मेडिसीन) डॉक्टरी कोर्स 2 साल से 3 साल का होता है। D-PHARM (आयुर्वेदिक सिद्धा मेडिसीन) डॉक्टरी कोर्स करना है। तो आपको 2 साल की पढ़ाई करना होता है। इस तरह से यह निर्भर करता है की आप डाक्टर बनने के लिए कौनसा कोर्स कर रहे है।

डॉक्टर कोर्स करने के लिए कितनी फ़ीस लगती है (doctor course fees)

दोस्तों यदि आपकी कॉम्पेटेशन एग्जाम (competition exam) देने के बाद अच्छी रैक आती है। तो उसके अनुसार आपको गवर्मेट कॉलेज मिलेगा। जिसमे डॉक्टर कोर्स करने के लिए आपको 1 साल की फ़ीस 25 हजार रूपये से लेकर 30 हजार रूपये लग सकती है। यदि आप प्राइवेट कॉलेज से (MBBS) डॉक्टरी कोर्स करते हो तो आपको 4 लाख रूपये से 10 लाख रूपये तक फ़ीस लग सकती है। कुछ सरकारी कॉलेज ऐसे भी होते है। जिसमे फ़ीस कम लगती है। और सरकार की तरफ से हर वर्ष आपको स्कॉलरशिप मिलती है। इसके अलावा अलग अलग कोर्स के लिए अलग अलग कॉलेज में अलग अलग फीस ली जाती है। यह निर्भर करता है की आप कौन से कॉलेज से कौनसा कोर्स कर रहे है।

डॉक्टर कोर्स करने के बाद जॉब (job after doctor course)

दोस्तों अबतक आप जान चुके होंगे की doctor क्या होता है Doctor kaise bane आइये अब जानते है की अगर आपने डॉक्टर की पढ़ाई क़र ली है तो आपको सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटलों में जॉब करने को मिलता है। इसके बाद आप अगर जॉब नहीं करना चाहते हो तो आप स्वयं का हॉस्पिटल या क्लीनिक खोल सकते है। यह मेडिकल स्टोर खोल सकते है। या अपनी डाक्टरी पढ़ाई को आगे जारी रख सकते है।

डॉक्टर बनने पर कितनी सैलरी मिलती है (How much salary do you get to become a doctor)

दोस्तों यदि आप डॉक्टर की पढ़ाई करके सरकारी डॉक्टर बनते हो तो आपको हर महने 90,000 हजार रूपये के आस पास सैलरी मिल सकती है। यदि आप किसी प्राइवेट हॉस्पिटल में जॉब करते हो तो आपको हर महने 60,000 हजार रूपये तक वेतन मिल सकता है। इसके बाद अगर आपको मरीजों का इलाज करने का अनुभव अच्छा हो तो आपकी सैलेरी इससे भी अधिक हो सकती है। या आप खुद का क्लीनिक खोलकर भी अच्छे पैसे कमा सकते हो इसकी कोई लिमिट नहीं होती है। आप जितना अच्छा मरीजों की देख भाल और उनका इलाज करोगे और आपके पास जितनी सुविधाजनक सामग्री, जितनी फैसिलिटी होगी। उस हिसाब से आप डॉक्टर बनने के बाद अच्छे पैसे कमा सकते है।

दोस्तों उम्मीद है आपको आज की इस पोस्ट में दी गई जानकारी डॉक्टर क्या होता है। (What is doctor) डॉक्टर कैसे बने (doctor kaise bane), डॉक्टर कितने प्रकार होते है ? (Typse Of Doctor) डॉक्टर के पास क्या-क्या सामग्री होती है। डॉक्टर बनने लिए क्या योग्यता (Qualification) होनी चाहिए। डॉक्टर बनने के लिए कौन -कौन से कोर्स करना होता है। डॉक्टर बनने के बाद कहा जॉब कर सकते है। डॉक्टर बनने के बाद वेतन कितना मिलता है। आदि सवालो के जवाब मिल गए होंगे फिर भी यदि आपके कोई सवाल हो तो कमेंट्स करे।

यह भी पढ़े :

7 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *