Agneepath Scheme Details In Hindi अग्निवीर भर्ती योजना, लाभ, पात्रता, ।

भारतीय सेना में भर्ती को लेकर काफी दिनों के बाद, बड़े बदलाव सरकार की ओर से किये गए है। और इस बदलाव के साथ आई नई स्कीम को “अग्निपथ स्कीम” (Agneepath Scheme) का नाम दिया गया है। और इस योजना के तहत नौकरी में लगे विरो को “अग्निवीर” (Agniveer) का नाम दिया गया है। तो दोस्तों आज की इस पोस्ट में जानेंगे की, अग्निपथ योजना 2022 क्या है ? (Agneepath Scheme Details In Hindi) अग्निपथ योजना के तहत अग्निवीर बनने के लिए Age limit, Eligibility, Posts, salary आदि के बारे में जानने के लिए, आपको इस पोस्ट को पूरा पढ़ना होंगा। इस पोस्ट में हम आपके साथ अग्निपथ स्कीम (Agneepath Scheme) अग्निवीर स्कीम (agniveer scheme) के बारे में पूरी जानकारी आपके साथ साँझा करेंगे।

Contents hide

Agneepath Scheme Kya Hai अग्निपथ स्कीम 2022 क्या है ?

देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 14 जून को ‘अग्निपथ’ नाम की योजना शुरू करने की घोषणा की, भारत सरकार ने, भारत की तीनो सेना आर्मी (Army), नेवी (Navy) और एयरफोर्स (Air Force) में अब अग्निपथ योजना के तहत भर्ती होंगी। यह एक तरह के सैनिक ही होंगे, लेकिन इनके लिए एक अलग रैंक होंगी। और यह सैनिक अग्निवीर कहलायेंगे। इन अग्निवीरो की भर्ती आर्मी, नेवी या एयरफोर्स में चार साल के लिए रहेंगे। और इनमे से 25% अग्निवीरो को आगे परमानेंट होने का मौका मिलेंगा। शेष 75% अग्निवीरो को, अलग-अलग सरकार की अन्य नौकरीयो में मान्यता देने की घोषणा हुई है।

यह भी पढ़े :

Agneepath/Agniveer Scheme Details In Hindi

योजना का नाम अग्निपथ
पद का नाम अग्निवीर
योजना की घोषणा 14 जून 2022 रक्षा मंत्रालय
मान्यता भारत सरकार
लागु सम्पूर्ण भारत में
भर्ती तीनो सेनाओ में (आर्मी (Army), नेवी (Navy और एयरफोर्स (Air Force)
कुल पदों पर भर्ती 46000+ (तीनो सेनाओ सहित)
अग्निवीरो का वेतन 30,000-40,000
सेवा अवधि 4 वर्ष
भर्ती प्रक्रियाऑनलाइन
उम्र 17.5 वर्ष से 21 वर्ष (नियमानुसार 2 वर्ष की छूट)
भर्ती प्रक्रिया की जानकारी Agniveer Recruitment 2022

अग्निपथ स्कीम की विशेषताएँ ? (Features of Agneepath Scheme)

  • अग्निवीर के रूप में चार वर्ष तक राष्ट्रसेवा करने का अवसर।
  • सभी सैनिकों / नाविकों / एयरमैन (आर्मी (Army), नेवी (Navy) और एयरफोर्स (Air Force)) की नियुक्ति अग्निपथ योजना के माध्यम से।
  • सम्पूर्ण भारत में मेधा आधारित नियुक्ति प्रक्रिया।
  • आकर्षक मासिक वेतन व भव्य सेवा निधि पैकेज।
  • नियमित कैडर में नियुक्ति हेतु आवेदन का 100 % अवसर।
  • मेधा व सांगठनिक आवश्यकता के आधार पर चार वर्ष बाद, “केन्द्रीय पारदर्शी एवं श्रमसाध्य प्रणाली” के माध्यम से 25 % अग्निवीरों का चयन।

अग्निपथ स्कीम की पात्रता Agneepath Scheme Eligibility

  • आवेदक भारत का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु 17.5 से 21 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • (नोट – अग्निपथ योजना में अग्निवीरो की भर्ती की उम्र सिमा को लेकर सरकार ने बड़ा फैसला लिया है पहले वर्ष में होने वाली भर्ती के लिए सरकार ने उम्र सिमा (age limit) 21 वर्ष से बढ़ाकर 23 वर्ष कर दी है।)
  • अग्निवीर द्वारा 10वीं या 12वीं कक्षा उत्तीर्ण की होनी चाहिए।
  • आवेदक को सभी चिकित्सा मानदंडों को पूरा करना होगा।

अग्निपथ स्कीम महत्वपूर्ण दस्तावेज (Agneepath Scheme Important Documents)

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • आयु का प्रमाण
  • 10वीं या 12वीं कक्षा की मार्कशीट
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • मेडिकल सर्टिफिकेट
  • ईमेल आईडी आदि।

अग्निपथ स्कीम भर्ती की आयु सिमा ? (agneepath scheme army age limit)

अग्निपथ योजना (Agneepath Yojana) के तहत होने वाली सभी भर्तियों के लिए एक ही उम्र सिमा (Age Limit) लगाई गई है। अग्निपथ योजना के तहत यदि कोई युवा भर्ती देना चाहता है, देश सेवा करना चाहता है। तो उसकी उम्र 17.5 वर्ष से 21 वर्ष के बिच की होनी आवश्यक है। इस योजना के अंतर्गत किसी भी प्रकार की उम्र सिमा में कोई छूट नहीं दी गई है।

(नोट – अग्निपथ योजना में अग्निवीरो की भर्ती की उम्र सिमा को लेकर सरकार ने बड़ा फैसला लिया है पहले वर्ष में होने वाली भर्ती के लिए सरकार ने उम्र सिमा (age limit) 21 वर्ष से बढ़ाकर 23 वर्ष कर दी है।)

अग्निपथ स्कीम के पहले चरण में कितनी भर्तियां होंगी? (Agneepath bharti 2022)

अग्निपथ योजना (agneepath Yojana) के तहत रक्षा मंत्रायल जल्द ही भर्ती लेकर आ रही है। जिसमे 90 दिनों में आर्मी में भर्ती के लिए पहली रिक्रूटमेंट रैली हो जाएगी। पहले चरण में आर्मी के लिए 90 दिनों में आर्मी में भर्ती के लिए पहली रिक्रूटमेंट रैली हो जाएगी।

  • आर्मी (Army) – 40,000 पद
  • नेवी (Navy) – 3,000 पद
  • एयरफोर्स (Air Force) – 3,500 पद

अग्निपथ स्कीम के तहत अग्निवीरों की सैलरी कितनी होंगी ? (Agneepath bharti Scheme Salary Per Month)

Agneepath Yojana के तहत अग्निवीरों को पहले साल 30 हजार रुपये मासिक सैलरी मिलेगी। दूसरे साल 33 हजार, तीसरे साल 36 हजार 500 रुपये और चौथे साल 40 हजार रुपये मासिक सैलरी मिलेगी। सैलरी के अलावा रिस्क और हार्डशिप अलाउंस, राशन अलाउंस, ड्रेस और ट्रैवल अलाउंस मिलेगा।

स्पेशलाइज्ड मैनपावर के लिए आईटीआई (IT) और दूसरे टेक्निकल इंस्टिट्यूट्स से युवाओं को लिया जाएगा। चार साल पूरा होने पर जब सैनिक बाहर आएंगे तो उन्हें सेवा निधि मिलेगी। इसमें हर महीने सैलरी से 30 पर्सेंट अमाउंट कटेगा और इतनी ही राशि सरकार देगी। चार साल में यह रकम 11 लाख 70 हजार रुपये हो जाएगी। इसमें कोई इनकम टैक्स नहीं लगेगा।

अग्निवीर का 48 लाख रुपये का लाइफ इंश्योरेंस कवर होगा। इसके लिए उन्हें अपनी सैलरी से कोई योगदान नहीं देना होगा। लाइफ इंश्योरेंस कवर के अलावा सर्विस के दौरान मौत हो जाने पर 44 लाख रुपये का एक्स ग्रेशिया भी मिलेगा, साथ ही जितनी सर्विस बची होगी उसकी सैलरी और उस बचे वक्त की सेवा निधि का हिस्सा भी मिलेगा। विकलांग होने पर सर्विस से बाहर हुए तो विकलांगता के आधार पर वन टाइम की आर्थिक मदद का प्रावधान होगा।

4 साल बाद क्या करेंगे अग्निवीर ?

इसके जवाब में एयरफोर्स चीफ ने कहा कि आज भी 12वीं के बाद युवा या तो स्किल ट्रेनिंग लेते हैं या हायर एजुकेशन लेते हैं या फिर जॉब ढूंढते हैं। हम युवाओं को एक साथ तीनों मौका दे रहे हैं। उन्हें अच्छी सैलरी मिलेगी, चार साल में अच्छा बैंक बैलेंस हो जाएगा। साथ ही उन्हें स्किल ट्रेनिंग भी दी जाएगी। नैशनल एजुकेशन पॉलिसी के तहत उन्हें जो भी फॉर्मल ट्रेनिंग दी जाएगी, उसका क्रेडिट पॉइंट उन्हें मिलेगा। उससे वे चार साल बाद हायर एजुकेशन ले सकते हैं। वे चार साल सेना में रहकर ज्यादा आत्मविश्वास के साथ बाहर जाएंगे।

अग्निवीर बनने के फायदे

अग्निपथ स्कीम को सरकार ने गेम चेंजर बताया। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ आर्मी, नेवी और एयरफोर्स चीफ ने भी कहा कि इससे सेना भविष्य की चुनौतियों से बेहतर ढंग से निपट सकेगी। आर्मी में अभी सैनिकों की औसत उम्र 32 साल है। अग्निवीरों के आने के बाद 6-7 साल में औसत उम्र 26 साल हो जाएगी और आर्मी ज्यादा यंग और फिट होगी। युवा हर दिन बदलती तकनीक को जल्दी सीखेंगे।

यह भी पढ़े :

अग्निपथ स्कीम में महिलाओ के लिए अवसर ?

अग्निपथ स्कीम के ऐलान के साथ ही इंडियन नेवी के चीफ एडमिरल आर हरिकुमार ने कहा कि हम अग्निपथ स्कीम के साथ महिला सेलर को भी शामिल करेंगे। नेवी चीफ ने कहा कि महिला अधिकारियों को पिछले करीब डेढ़ साल से ऑन बोर्ड (वॉरशिप में) तैनाती भी दी गई है। हम जेंडर न्यूट्र्ल सर्विस हैं और अग्निपथ के तहत महिलाओं को भी मौका दिया जाएगा। अग्निपथ स्कीम के तहत इंडियन नेवी में महिलाएं भी अग्निवीर बन सकेंगी। अब तक इंडियन नेवी में महिलाएं सिर्फ ऑफिसर रैंक में होती थी और सेलर रैंक में सिर्फ पुरुष होते हैं।

आग्निवीरो को पेंशन, और ग्रेच्युटी कितनी मिलेगी ? (Agniveer Salary, Pension, Gratuity)

चार साल की सर्विस पूरी होने के बाद अग्निवीर जब बाहर होंगे तो ये किसी भी तरह की पेंशन या ग्रेच्युटी के हकदार नहीं होंगे। सर्विस के दौरान इन्हें स्किल ट्रेनिंग दी जाएगी। चार साल के बाद सभी अग्निवीर बाहर हो जाएंगे। फिर इनमें से अधिकतम 25 पर्सेंट को रेगुलर कैडर के तौर पर यानी परमानेंट के तौर पर सेना जॉइन करने का मौका दिया जाएगा। यह कितने पर्सेंट होगा, यह सेना की जरूरत पर निर्भर करेगा।

लेकिन Agneepath yojana के तहत बहार जाने वाले अग्निवीरो को एक “भव्य पॅकेज” दिया जायेंगा। जिसके लिए उनकी वेतन से 30% की कटौती की जाएँगी और इतने ही पैसे सरकार अपने तरफ से मिलायेंगी। इस आधार पर जब युवा योजना से बहार होगा तो उसे तक़रीबन 11 लाख 70 हजार रुपये मिलेंगी। इसमें कोई इनकम टैक्स भी नहीं लगेगा।

agniveer salary

Agneepath Scheme का युवा क्यों कर रहे विरोध ?

देश के कई राज्यों में युवा इस योजना के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। बिहार में सबसे अधिक विरोध-प्रदर्शन देखने को मिला है। सेना में शामिल होने की तैयारियों कर रहे युवाओं का पक्ष है कि वो सालों तक खूब मेहनत कर सेना भर्ती होने की तैयारी करते हैं। ऐसे में चार साल की नौकरी उन्हें मंजूर नहीं है। प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने सरकार से इस योजना को तुरंत वापस लेने की अपील की है।

अग्निपथ योजना के जवानों मध्य प्रदेश पुलिस भर्ती में प्राथमिकता

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भारतीय सेना देश का गौरव है और देशवासियों का अभिमान है। भारतीय सेना के जवान हमारे हीरो हैं, रोल मॉडल हैं। उन्होंने कहा कि जो जवान अग्निपथ योजना में सेवाएं दे चुके होंगे, उन्हें मध्य प्रदेश पुलिस की भर्ती में प्राथमिकता दी जाएगी।

असम और मणिपुर की नौकरियों में भी अग्निवीरों को अवसर

पूर्वोत्तर के कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने सशस्त्र बलों में युवाओं की भर्ती के लिए अग्निपथ योजना शुरू करने के लिए केंद्र सरकार की सराहना की है। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा और मणिपुर सीएम एन. बीरेन सिंह ने घोषणा की कि चार साल तक बलों की सेवा करने के बाद राज्य पुलिस की नौकरियों में ‘अग्निवीर’ को विशेष वरीयता दी जाएगी।

Agneepath Scheme Apply Online अग्निपथ योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

अभी सरकार द्वारा केवल अग्निपथ योजना को आरंभ करने की घोषणा की गई है। किसी भी तरह की ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया के Agneepath Official Website की शुरुवात नहीं हुई है। आपको तीनो सेनाओ की आधिकारिक वेबसाइट से ही आवेदन प्रक्रिया पूरी करनी है। जिनके लिंक निचे दिए गए है।

Agneepath/Agniveer Official Website

Indian Army Official Website https://joinindianarmy.nic.in/
Indian Navy Official Website https://www.joinindiannavy.gov.in/
Indian Air Force Official Website https://indianairforce.nic.in/

दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आप जान गए होंगे की अग्निवीर स्कीम क्या है (Agniveer Scheme kya hai) या अग्निपथ स्कीम क्या है। (Agneepath Scheme Details In Hindi) अग्निपथ स्कीम लाभ (benefits), पात्रता (Eligibility), उम्र सिमा (Age limit) आदि के बारे में विस्तार से जानकारी मिल गई होंगी। यदि ये पोस्ट आपको अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ साँझा करे और ऐसे ही jobs और carrier से जुडी जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग (https://www.jobfuture.in/) की अन्य पोस्ट भी पढ़े।

यह भी पढ़े :

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published.